तेज हवा के चलने से दिल्‍ली की हवा कि गुणवत्ता में आया मामुली सुधार…

राजधानी और आसपास के क्षेत्रों की हवा की गुणवत्ता में धरातलीय हवाओं के चलने से मामूली सुधार दर्ज कई गई है। हालांकि सप्ताह के मध्य में वायु गुणवत्ता फिर से खराब हो सकती है। यह जानकारी केंद्र सरकार की एक एजेंसी सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च ने सोमवार को दी।

राजधानी शहर का वायु गुणवत्ता सूचकांक दोपहर 1.30 बजे 237 था, जो खराब स्तर पर आता है।वायु गुणवत्ता पूवार्नुमान प्रणाली के अनुसार, धरातलीय हवा की दिशा में परिवर्तन का पूवार्नुमान लगाया गया है, जिससे कम वेंटिलेशन और एक्यूआई के बिगड़ने की संभावना है।

21 और 22 अक्टूबर को अत्यंत खराब एक्यूआई का पूवार्नुमान लगाया गया है।उत्तरी पश्चिमी दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में प्रदूषण निगरानी स्टेशन ने 310 सूचकांक के साथ सबसे प्रदूषित वायु दर्ज की, इसके बाद द्वारका सेक्टर-8 में 277 और बवाना इलाके में 375 सूचकांक दर्ज किया गया। पंजाबी बाग क्षेत्र ने 91 में सबसे कम वायु गुणवत्ता सूचकांक दर्ज किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *