रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का कड़ा फैसला, सेना में इतने पद किए खत्‍म

कोरोनाकाल के बीच रक्षा मंत्रालय की तरफ से एक अहम फैसला लिया गया है। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने सैन्य इंजीनियरिंग सेवाओं के 9,304 पदों को खत्म करने को मंजूरी दी। सिंह ने बुनियादी और औद्योगिक कार्यबल में 9,300 से अधिक पदों के लिए सैन्य इंजीनियरिंग सेवा (एमईएस) के इंजीनियर-इन-चीफ के प्रस्ताव को मंजूरी दी।

पढ़ें:- स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री का ऐलान, भीड़ कम करने के लिए जल्‍द खुलेंगी शराब की सभी दुकानें

रक्षा मंत्रालय ने की तरफ से कहा गया, “यह लेफ्टिनेंट जनरल शेकातकर की अध्यक्षता में विशेषज्ञों की समिति की सिफारिशों के अनुरूप है, जिसने सशस्त्र बलों के युद्धक क्षमता और असंतुलन रक्षा खर्च को बढ़ाने के उपायों की सिफारिश की थी।”

पढ़ें:- प्रवासी मजदूर ‘श्रमिक एक्‍सप्रेस’ का टिकट पाने के लिए ऐसे करें आवेदन, रेलवे स्‍टेशन जाने की नहीं है जरूरत

समिति द्वारा की गई सिफारिशों में से एक सिविल वर्कफोर्स को इस तरह से पुनर्गठित करना था कि एमईएस का काम आंशिक रूप से विभागीय कर्मचारियों द्वारा किया जा सके और अन्य काम को आउटसोर्स किया जा सके।

इंजीनियर-इन-चीफ, एमईएस के प्रस्ताव के आधार पर समिति द्वारा की गई सिफारिशों के अनुरूप, मूल और औद्योगिक कर्मचारियों के कुल 13,157 रिक्तियों में से एमईएस में 9,304 पदों को समाप्त करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है।

पढ़ें:- भारत में धीरे-धीरे अब हटने लगा है लॉकडाउन, सरकार को WHO की ये चेतावनी

सिफारिश का उद्देश्य एमईएस के कार्यबल को कम करते हुए एक कुशल और लागत प्रभावी तरीके से एक प्रभावी संगठन बनाने का है।

आसान शब्दों में कहें तो समिति ने सैन्य बलों की क्षमता बढ़ाने और रक्षा खचरें को संतुलित करने के लिए यह सिफारिश की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *