कोयंबटूर के पास एक 12 वर्षीय हाथी की मौत, मुंह की चोट से था पीड़ित…

मुंह में चोट से जूझ रहे एक हाथी ने कोयंबटूर जिले के पास अनैकट्टी में सोमवार को दम तोड़ दिया। उसपर इलाज का असर नहीं हो रहा था।

वन विभाग के अधिकारियों के अनुसार, उन्हें शनिवार को सूचना मिली कि एक कमजोर हाथी एक खेत में खड़ा है और वह कुछ खा नहीं पा रहा है।

कोरोना काल: मंदिरों को फिर से बंद करने की बङी मांग, कहा कभी मंदिर कोरोना के प्रसार का वाहक न बन जाए…

वन विभाग के अधिकारी ने बताया, “यह हाथी पिछले कुछ दिनों से मुंंह में हुए एक घाव से पीड़ित था। हालांकि उसे बचाने के लिए कई प्रयास भी किए गए, लेकिन फिर भी इसके बावजूद उसकी मृत्यु हो गई। मौत के कारणों का पता लगाने के लिए जांच शुरू कर दी गई है।”

वहां पहुंचे अधिकारियों ने फल के अंदर दवा भरकर उसे खिलाया। हाथी को तरल पदार्थ भी दिए गए।

टीवी की ये अदाकारा देती है हॉट योगा पोज़, कभी न्यूड होकर भी किया था योगा…

हाथी रविवार को चलकर जंगल में पहुंच गया, लेकिन बाद में फिर खेत में लौट आया और लेट गया। सोमवार को उसने अंतिम सांस ली।

हाथी के मुंह में चोट कैसे लगी, इस बारे में जानकारी नहीं है। कहीं इसने वन्य जीवों को मारने के लिए खेतों में रखे गए देसी बम तो नहीं खा लिए थे।

सैफ अली खान ने स्वीकारा, कहा नेपोटिज्म के चलते अच्छे एक्टर्स को नहीं मिल पाता है काम…

केरल में हाल ही में एक गर्भवती हथिनी को विस्फोटक से भरा फल खिला दिया गया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी। इस घटना को लेकर पूरे देश में लोगों ने आक्रोश जताया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *