School Re-opening guidelines out in Unlock 5.0: Unlock 5 में खुलेंगे सभी स्कूल? अब पैरेंट्स को लेना होगा ये फैसला, देखें गाइडलाइन…

अनलॉक के पांचवे (Unlock 5th process) चरण में सरकार ने अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लक्ष्य पर विशेष ध्यान दिया है। इसी वजह अब कई सारी रियाते दी गई है। सरकार ने स्कूल कॉलेज (Unlock 5.0 School Reopen) से लेकर सिनेमा हाल तक को दोबारा खोलने का भी निर्णय लिया है लेकिन इसमें भी कई तरह के नियम निर्धारित किए गए हैं।

अनलॉक के पांचवे चरण में सबकी नजर स्कलू कॉलेज को लेकर जारी होने वाले दिशा निर्देशों पर थी। गृह मंत्रालय ने स्कूल कॉलेज (School College Reopen Latest Guidelines) खोलने को लेकर कई अहम बातें अपनी गाइडलाइन में कहीं।

गौरतलब है कि पिछले छह महीने से देश में स्कूल कॉलेज बंद पड़े हुए हैं, पहले लोगों को उम्मीद थी कि अनलॉक 4.0 में स्कूल कॉलेज खोले जाएंगे लेकिन लगातार तेजी से बढ़ते कोरोना के मामलो के कारण ऐसा नहीं हो सका था।

अब अनलॉक के पांचवे चरण में भी लोगों को सबसे बड़ी उत्सुकता इसी बात को लेकर थी कि सरकार स्कूल कॉलेज खोलने के बारे में क्या निर्णय लेती है। फिलहाल सरकार ने अभी स्कूल कॉलेज को खोलने के लिए कोई भी फैसला नही लिया गया है। सरकार की तरफ से जारी गाइडलाइन में कहा जारी नई गाइडलाइन में राज्य सरकारों को स्कूल कॉलेज खोलने की रियायत दी गई है।

राज्य सरकारे हालात को देखते हुए स्कूल कॉलेज को खोलने के बारे मे 15 अक्टूबर 2020 के बाद निर्णय ले सकेंगे। हालांकि राज्य सरकार निर्णय लेने से पहले स्कूलों/संस्थान प्रबंधनों के साथ परामर्श करेंगी और संस्थानों को दिशा निर्देशों और शर्तों का पालन करना होगा। राज्य सरकारे हालात को देखते हुए स्कूल कॉलेज को खोलने के बारे मे 15 अक्टूबर 2020 के बाद निर्णय ले सकेंगे। हालांकि राज्य सरकार निर्णय लेने से पहले स्कूलों/संस्थान प्रबंधनों के साथ परामर्श करेंगी और संस्थानों को दिशा निर्देशों और शर्तों का पालन करना होगा।

राज्य सरकारे हालात को देखते हुए स्कूल कॉलेज को खोलने के बारे मे 15 अक्टूबर 2020 के बाद निर्णय ले सकेंगे. हालांकि राज्य सरकार निर्णय लेने से पहले स्कूलों/संस्थान प्रबंधनों के साथ परामर्श करेंगी और संस्थानों को दिशा निर्देशों और शर्तों का पालन करना होगा।

उच्‍च शिक्षा विभाग और शिक्षा मंत्रालय कॉलेज/उच्‍च शिक्षा संस्‍थान को दोबारा खोलने के लिए गृह मंत्रालय से परामर्श लेना जरूरी होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *